ताजा अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल जॉइन करें- Click Here
Career

Judge Kaise Bane, न्यायाधीश कैसे बने योग्यता, प्रशिक्षण, सैलरी आदि जानिए

District Judge Kaise Bane, जज बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए

whatsApp चैनल जॉइन करें- Click Here

Judge Kaise Bane, न्यायाधीश कैसे बने योग्यता, प्रशिक्षण, सैलरी आदि जानिए

Judge Kaise Bane, न्यायाधीश कैसे बने, जज बनने के लिए योग्यता, जज बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए, जन की तैयारी कैसे करें, सिविल जज कैसे बने, हाई कोर्ट के जज कैसे बने, जिला जज कैसे बने, जज बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए, जज कितने प्रकार के होते हैं, जज बनने के लिए कितनी हाइट होनी चाहिए #Search Duniya Career Kaise Banaye

करियर की जानकारी टेलीग्राम चैनल से प्राप्त करें

Click Here

Judge Kaise Bane In Hindi

दोस्तो जज बनने का बहुत से लोगो का सपना होता है। लेकिन अपने सपनों को पूरा करने के लिए हमे दिन रात एक करके कठिन मेहनत करनी होती है आपका सपना जितना बड़ा होता है आपको उसी के अनुसार मेहनत करनी होती है। आज इस पोस्ट मे हम आपको जज कैसे बने (न्यायाधीश कैसे बने) इसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको नीचे विस्तार से बताने वाले है तो आप इस लेख को आखिर तक पढ़ें।#SearchDuniya

ये भी पढ़ें – पर्यटन के क्षेत्र मे करियर कैसे बनाएं

न्यायधीश (judge) कैसे बने जानिए

भारत के संविधान मे न्याय व्यवस्था को पूर्णत: स्वतंत्र रखा गया है जिससे की यह कार्यपालिका द्वारा किये गए गलत कार्यो पर अंकुश लगा सके, इसलिए अपने देश मे जज का पद बहुत ही महत्वपूर्ण पद होता है। जज का पद बहुत ही महत्वपूर्ण पद होता है क्योंकि एक गलत निर्णय से बहुत से लोग प्रभावित होते है। भारत में सर्वोच्च न्यायलय के मुख्य न्यायधीश की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाती और अन्य न्यायधीशों की नियुक्ति मुख्य न्यायधीश की सलाह पर राष्ट्रपति करता है। इसी प्रकार सभी राज्यों के उच्च न्यायालयों में मुख्य व अन्य न्यायधीशों की नियुक्ति राज्यपाल के द्वारा की जाती है, और इनकी नियुक्ति के बाद इन्हें केवल महाभियोग के द्वारा ही हटाया जा सकता है, जज कैसे बने? इसके लिए योग्यता, आयु सीमा, तैयारी कैसे करें आदि की सम्पूर्ण डिटेल नीचे विस्तार से पढ़ें।

ये भी पढ़ें – सीडीपीओ अधिकारी कैसे बने

Educational Qualifications (शैक्षणिक योग्यता)

वे सभी अभ्यर्थी जो जज की तैयारी कर रहे है और जज बनना चाहते है उन्हे बता दे की उनकी कक्षा 12वीं मे 45 प्रतिशत अंक प्राप्त होने आवश्यक है। इसके बाद आपको कॉलेज की पढ़ाई पूरी करनी होगी। इसमे सफल होने के बाद आपको आसानी से बीए एलएलबी में प्रवेश मिल जायेगा जिसकी अवधि पांच वर्ष है, इसके साथ-साथ आप स्नातक की परीक्षा 45 प्रतिशत अंको के साथ उत्तीर्ण करके एलएलबी के तीन वर्षीय कार्यक्रम में प्रवेश प्राप्त कर सकते है।

ये भी पढ़ें – आईपीएस ऑफिसर कैसे बने

Qualification for Judge (न्यायाधीश के लिए योग्यता)

  • अभ्यर्थी को भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • न्यायाधीश बनने के लिए अभ्यर्थी को दो या दो से अधिक न्यायालयों में कम से कम पांच वर्षों तक न्यायाधीश के रूप में कार्य करने का अनुभव होना चाहिए।
  • या किसी उच्च न्यायालय में लगातार दस वर्ष तक अधिवक्ता के रूप में कार्य किया होना चाहिए।
  • किसी उच्च न्यायालय के न्यायाधीश या फिर उच्चतम न्यायालय या उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश को उच्चतम न्यायालय के एक तदर्थ न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया जा सकता है।
  • न्यायाधीश बननें के लिए आयु 62 वर्ष के अंदर होनी अनिवार्य है।

Training to Be a Judge (जज बनने के लिए प्रशिक्षण)

न्यायाधीश को चयन होने के बाद उनको प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है, जिसमे न्यायालय के परीक्षणों में भाग लेने, कानूनी प्रकाशनों की समीक्षा करने और पूर्ण अभ्यास करनें का अवसर प्रदान किया जाता है, सफलतापूर्वक प्रशिक्षण के बाद आपको एक न्यायाधीश के रूप में नियुक्त कर दिया जाएगा।

Personal Qualifications for Judge (न्यायाधीश के लिए व्यक्तिगत योग्यता)

  • एक न्यायाधीश के रूप में आपको तथ्यों का मूल्यांकन करने और सही निर्णय लेने में सक्षम होना चाहिए।
  • जज के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि उन्हें कानून के विषय की अच्छी समझ होनी चाहिए, जिससे वह उन नियमों को सही से पालन करवा पाए।
  • न्यायाधीश के रूप में आपको सभी पक्षों पर विशेष ध्यान देना चाहिए, जिससे आप अच्छी तरह से केश के मूल तत्व में जाकर अच्छा निर्णय ले सके।
  • पढ़ना और लेखन क्षमता आप में अच्छे होने चाहिए क्योकि न्यायाधीशों को तथ्यों का मूल्यांकन करना होता है और उनके बीच अंतर करना होता है, लेखन क्षमता के माध्यम से वह केश से जुड़े सभी तत्वों को स्पष्ट तरीके से लिखते है और फिर सम्पूर्ण केश स्टडी के बाद उसका निष्पक्ष निर्णय देते है।

भारत सरकार या राज्य स्तरीय न्यायिक पदों पर चयन

एलएलबी की परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप के पास अधिवक्ता के अतिरिक्त कई विकल्प खुल जाते है, आप एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब आसानी से प्राप्त कर सकते है, अनुभव बढ़ने के बाद आप सरकारी या प्राइवेट विभाग में लीगल कंसल्टेंट का कार्य कर सकते है।

भारत सरकार और राज्यों में अटॉर्नी जनरल के पद पर कार्य कर सकते है, यह बहुत ही एक्सपर्ट और अनुभवी होते हैं, इसके आलावा आप अध्यापन के क्षेत्र में जाने के लिए एलएलएम और एलएलडी कर सकते है जिससे आपको बहुत अधिक सम्मान प्राप्त होता है, इसके अतिरिक्त आप भारतीय और मल्टीनेशनल कंपनियों में लीगल एडवाइजर के रूप में कार्य कर सकते है।

हमारे पोर्टल SearchDuniya.In की इस पोस्ट मे आपको हर रोज करियर से जुड़ी जानकारी प्रदान की जाती है तो आप इस इस पोर्टल को डेली विजिट करें और करियर की जानकारी के लिए इस पेज को बुकमार्क कर सकते है। आज हमने आपको Judge Kaise Bane, न्यायाधीश कैसे बने योग्यता, प्रशिक्षण, सैलरी से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की है उम्मीद है की आपको यह जानकारी जरूर पसंद आई होगी।

ताजा अपडेट और करियर की जानकारी के लिए हमसे जुड़े

ताजा अपडेट और करियर की जानकारी के लिए टेलीग्राम चेनल से जुड़े Click Here
Search Duniya Home Click Here

Judge Kaise Bane?

न्यायाधीश बनने के लिए आपको पूरी जानकारी ऊपर बताई गई है।

Judge Kaise बनते है इसके लिए योग्यता क्या होती है?

जज (न्यायाधीश) के लिए योग्यता की सम्पूर्ण जानकारी आपको ऊपर बताई गई है।

जज बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए?

भारत में किसी भी न्यायालय में न्यायाधीश बनने के लिए आप की न्यूनतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए। इसके अलावा कुछ योग्यताओं को भी रखा गया है।

यह भी देखें – Wedding Planner कैसे बने

यह भी देखें – करियर कैसे बनाएं

ताजा अपडेट यहां देखें - Click Here
whatsApp चैनल जॉइन करें- Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button