ताजा अपडेट के लिए टेलीग्राम चैनल जॉइन करें- Click Here
Career

BDO Officer Kaise Bane, बीडीओ कैसे बने, योग्यता, सैलरी, सिलेबस जानिए

BDO Officer कैसे बने, BDO Banne ke Liye Qualification #Search Duniya

whatsApp चैनल जॉइन करें- Click Here

BDO Officer Kaise Bane, बीडीओ कैसे बने, योग्यता, सैलरी, सिलेबस जानिए

BDO Ki Taiyari Kaise Kare, BDO Kaise Bane, BDO Officer Kaise Bane, खंड विकास अधिकारी कैसे बने, ब्लाक डेवलपमेंट ऑफिसर कैसे बने, #Career Search Duniya, #Search Duniya

करियर की जानकारी के लिए टैलिग्राम चैनल से जुड़े – क्लिक करें

बीडीओ (BDO Officer) कैसे बने

बीडीओ को खंड विकास अधिकारी / ब्लाक विकास अधिकारी कहा जाता है, विकास खंड का निर्माण कुछ पंचायतों को मिलने से होता है, इसके मुख्यालय को सामुदायिक विकास केन्द्र कहा जाता है, विकास खंड और सामुदायिक विकास केंद्रों के सहयोग से जनविकास से जुड़े जन कल्याणकारी योजनाओं को लागू किया जाता है, विकास खंड के प्रभारी अधिकारी को विकास खंड अधिकारी या बीडीओ जिसे ब्लाक डेवलपमेंट आफिसर (BDO) कहा जाता है।

इस आर्टिकल में आपको BDO Officer कैसे बने (खंड विकास अधिकारी) बनने से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी विस्तार से बता रहे है आप इस लेख को आखिर तक पढ़ें।

बीडीओ बननें हेतु योग्यता

खंड विकास अधिकारी बननें के लिए अभ्यर्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक या परा-स्नातक पास होना अनिवार्य है।

बीडीओ बननें के लिए आयु सीमा

बीडीओ बननें के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 40 वर्ष होनी चाहिए, अभ्यर्थी 21 वर्ष के बाद इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं, इसके अलावा आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नियमनुसार अधिकतम आयु सीमा में छूट दी जाएगी।

(BDO Officer Selection Process) बीडीओ की चयन प्रक्रिया

बीडीओ पद के लिए अभ्यर्थी का चयन लिखित परीक्षा और साक्षात्कार के आधार पर किया जाता है, जो छात्र लिखित परीक्षा मे पास होंगे उन्हे साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा।

  1. प्रारंभिक परीक्षा (PRELIMINARY EXAM )

इस पद के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित परीक्षा में भाग लेना होता है, इस परीक्षा में दो पेपर होते हैं, तथा दोनों परीक्षाओं की समय अवधि दो घंटे होती हैं।

पेपर विषय अंक प्रश्न संख्या
पेपर -1 जनरल स्टडीज 200 150 प्रश्न
पेपर -2 सीएसएटी 200 100 प्रश्न

पेपर 2 एक क्वालीफाइंग पेपर है, जिसमें अभ्यर्थी को न्यूनतम 33 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य है।

प्रारंभिक परीक्षा पेपर 1 के पाठ्यक्रम: जनरल स्टडीज
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व तथा वर्तमान की घटनाएं
  • भारतीय इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
  • भारतीय और विश्व भूगोल के अंतर्गत भारत की भौतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल और विश्व से सम्बंधित जानकारी
  • भारतीय राजनीति और प्रशासन – संघटन, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, सार्वजनिक नीति, अधिकार मुद्दे, आदि
  • आर्थिक और सामाजिक विकास-सतत विकास, गरीबी, समावेश, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र की पहल आदि
  • पर्यावरण पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन पर सामान्य मुद्दे – जिन्हें विषय विशेषज्ञता और जलवायु परिवर्तन की आवश्यकता नहीं होती
  • सामान्य विज्ञान

प्रारंभिक परीक्षा पेपर 2 का पाठ्यक्रम: सीएसएटी

  • निर्णय लेने और समस्या सुलझाना
  • सामान्य मानसिक क्षमता से सम्बंधित प्रश्न
  • तार्किक तर्क और विश्लेषणात्मक क्षमता से सम्बंधित प्रश्न
  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल
  • कक्षा दस के स्तर तक प्राथमिक गणित
  • सामान्य अंग्रेजी कक्षा दस स्तर तक
  • सामान्य हिंदी से कक्षा दस के स्तर तक

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थीयों को मुख्य परीक्षा सम्मिलित होना है, इस परीक्षा में चार अनिवार्य प्रश्नपत्र होंते है, इसके अतिरिक्त अभ्यर्थी द्वारा चुनें गये दो वैकल्पिक विषयों के चार प्रश्नपत्र होंगे, अनिवार्य प्रश्नपत्रों में सामान्य हिंदी, निबंध के लिए 150-150 अंकों में दो प्रश्नपत्र और सामान्य अध्ययन के दो प्रश्नपत्र 200-200 अंकों में होंगे, दोनों प्रश्नपत्रों में वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न होंगे।

मुख्य परीक्षा सामान्य अध्ययन, पेपर- I

  • भारत का इतिहास, प्राचीन, मध्यकालीन, आधुनिक
  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन और भारतीय संस्कृति
  • राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाएं
  • भारतीय संदर्भ में जनसंख्या, पर्यावरण और शहरीकरण
  • विश्व भूगोल, भारत की भूगोल और इसके प्राकृतिक संसाधन
  • भारतीय कृषि, व्यापार और वाणिज्य
  • यू.पी. के विशिष्ट ज्ञान शिक्षा, संस्कृति, कृषि, व्यापार वाणिज्य, जीवन शैली और सामाजिक सीमा शुल्क आदि

मुख्य परीक्षा सामान्य अध्ययन, पेपर – II

  • भारतीय अर्थव्यवस्था
  • भारतीय राजनीति
  • सामान्य मानसिक क्षमता
  • सांख्यिकीय विश्लेषण, आलेख और आरेख
  • सामान्य विज्ञान (विज्ञान सहित भारत के विकास में विज्ञान और प्रौद्योगिकी की भूमिका)

भारतीय राजनीति वाले भाग में भारतीय संविधान राजनीतिक व्यवस्था भारतीय अर्थव्यवस्था आदि से भी प्रश्न पूछे जाएंगे।

खंड विकास अधिकारी वेतन (Salary of BDO)

बीडीओ या खंड विकास अधिकारी को प्रतिमाह वेतन के रूप में 9300/- से 34,800/- रुपये तक प्राप्त होते है, इसके साथ-साथ अन्य सरकारी सुविधाएँ भी मिलती है।

BDO Officer कैसे बनने के लिए तैयारी कैसे करें

इस परीक्षा की तैयारी करने के लिए आपको डेली करेंट अफेयर्स, न्यूज पेपर को ध्यानपूर्वक पढ़ना होगा, इसके साथ ही आपको इसके पूरे सिलेबस को ध्यान मे रखते हुये एक टाइम टेबल बनाकर अपनी स्टडी को जारी रखना है। स्टडी करते समय आपको जो मुख्य बिन्दु होते है उन्हे मार्क कर लेना है। इसके अलावा आपको पुराने पेपर को हल करना चाहिए।

यदि आपको किसी प्रश्न का उत्तर नहीं मिल रहे है तो आपको इंटरनेट की सहायता लेनी चाहिए। हर रोज अप करियर की जानकारी के लिए SearchDuniya.In वेबसाइट को विजिट करके जान सकते है।

निष्कर्ष: इस आर्टिकल मे हमने आपको BDO Officer Kaise Bane, बीडीओ कैसे बने, योग्यता, सैलरी, सिलेबस जानिए के बारें मे विस्तार से जानकारी प्रदान की है इसी प्रकार आप करियर से जुड़ी जानकारी के लिए आप SearchDuniya.In पोर्टल को डेली विजिट करके जानकारी प्राप्त कर सकते है।

ये भी देखें – सरकारी भर्तियों व जॉब की ताजा अपडेट यहां से देखें

ताजा अपडेट और करियर की जानकारी के लिए हमसे जुड़े

ताजा अपडेट और करियर की जानकारी के लिए टेलीग्राम चेनल से जुड़े Click Here
Search Duniya Home Click Here

ये भी देखें – सफलता कैसे मिलेगी जानिए

ये भी देखें – आईपीएस ऑफिसर कैसे बने जानिए

ताजा अपडेट यहां देखें - Click Here
whatsApp चैनल जॉइन करें- Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button