Career

पीएचडी (PhD) क्या है? इसे कैसे करें, जाने करियर, स्कोप, नौकरी और सैलरी के बारें में।

पीएचडी कितने साल की होती है, पीएचडी करने के फायदे, पीएचडी में कौन कौन से सब्जेक्ट होते हैं

पीएचडी (PhD) क्या है? इसे कैसे करें, जाने करियर, स्कोप, नौकरी और सैलरी के बारें में: पीएचडी (PhD) आज के इस महंगाई के जमाने मे हर कोई अच्छी सैलरी वाली जॉब पाना चाहते है इसके लिए कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है। अपने भविष्य को अच्छा बनाने के लिए सभी लोग बहुत से कोर्ष करते है ताकि आने वाले समय मे उन्हे अच्छी जॉब या नौकरी मिल सके। लेकिन हम आपको बता दे की किसी भी कोर्ष को करने से पहले आपको उससे जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी का पता होना चाहिए।

कोर्ष करने से पहले जरूर जानिए ये बाते – कोर्ष कैसे किया जाएगा, कितने समय का कोर्ष है, शैक्षणिक योग्यता क्या होनी चाहिए, कोर्स में कितने विषय होते हैं? और कोर्स करने के बाद आपको करियर मे क्या ऑप्शन मिल सकते सकते है। इस सभी की जानकारी होनी आपके लिए आवश्यक है। इस पोस्ट मे हम आपको पीएचडी क्या है और इसे कैसे कर सकते है पूरी जानकारी आपको विस्तार से बताएँगे। यह भी पढ़ें – फूड टेक्नोलॉजी में कॅरियर कैसे बनाये

पीएचडी क्या है?

पीएचडी का फुल फॉर्म डॉक्टर ऑफ फिलॉसफी (Doctor of Philosophy) होता है। यह एक डॉक्टर डिग्री है। जो भी उम्मीदवार PhD का कोर्स पूरा करते है। उनके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता है। जैसे की हम देखते है की कुछ लोगो के नाम के आगे डॉक्टर का प्रयोग होता हैं। लेकिन वे वास्तव में मेडिकल डॉक्टर नहीं होते उन्होंने PhD की होती है। जिसके कारण उनके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता है।

अगर आप किसी कॉलेज या फिर विश्वविद्यालय में प्रोफेसर या लेक्चरर बनना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको पीएचडी करना आवश्यक है। इसके बाद ही आप प्रोफेसर या फिर लेक्चरर बन सकते है। अगर आप चाहें तो रिसर्च या फिर एनालिसिस के क्षेत्र में भी जा सकते हैं। आपको बता दे की PhD में किसी एक खास विषय पर पढ़ाई की जाती है। यदि आप चाह रहे हैं, कि इस कोर्स में सीधा एडमिशन नहीं मिलता है। इसके लिए आपको स्कूल और उसके बाद कॉलेज में पढ़ाई करनी होती है। पीएचडी में केवल एक ही विषय पर पढ़ाई की जाती है।

एक विषय में ही पढ़ाई करने से संपूर्ण ज्ञान मिल जाता है। यानी कि आप उस विषय के विशेषज्ञ कहलाएंगे। इस कोर्स को करने के लिए आपको मास्टर डिग्री पास करनी होगी। जिस भी विषय में आपका इंटरेस्ट हो जिसमें आपने 12वीं की कक्षा पास की हो। उसी सब्जेक्ट से आपको ग्रेजुएशन की पढ़ाई करनी चाहिए। जिससे आपको PhD की पढ़ाई करने में कोई परेशानी नहीं होगी। इस प्रकार आप एक ही तरह के सब्जेक्ट लेते हैं, तो आपको आगे जाकर पीएचडी के कोर्स करने में बहुत सहायता मिल जाएगी। यह भी पढ़ें – सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी जानिए

PhD करने के लिए योग्यता

  • आपने बारहवीं क्लास और ग्रेजुएशन पास की हो।
  • PhD में Admission के लिए आपको पहले Entrance Test Pass करना होता हैं जिसके लिए Apply करने के लिए आपके Minimum 55% अंक होने चाहिए।
  • अगर आप Engineering में PhD करना चाहते हैं तो आपका एक valid Gate Score होना चाहिए।
  • मास्टर डिग्री में आपके 55% होना आवश्यक है।
  • आप जिस विषय में PhD करना चाहते है उसी विषय से आपने मास्टर डिग्री की हो।

पीएचडी का कोर्स किसको करना चाहिए?

  1. जिस भी छात्र छात्राओं को पढ़ाई में अधिक रूचि है। वे इस कोर्स को आसानी से कर सकते है। यह उन छात्रों के लिए है, जो कॉलेज की पढ़ाई के बाद आगे भी पढ़ाई करना चाहते हैं।
  2. यदि आप किसी अच्छे कॉलेज में प्रोफेसर लेक्चरर बनना चाहते है। या फिर आपको किसी एक टॉपिक पर रिसर्च करनी है, तो इसके लिए आपको PhD कोर्स करना होगा।
  3. जो लोग पहले से ही नौकरी कर रहे हैं। और वह अपनी नौकरी में प्रमोशन पाना चाहते हैं। या फिर अपनी वेतन में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो इस नतीजे से भी पीएचडी बहुत जरूरी हो जाती है। ऐसे उम्मीदवारों को किसी सरकारी यूनिवर्सिटी से पार्ट टाइम PhD का कोर्स जरूर करना चाहिए।

पीएचडी का कोर्स कितने साल का होता है?

भारत में PhD लगभग 4 सालों में कंप्लीट हो जाती है। लेकिन कई छात्रों को इसमें इससे थोड़ा अधिक समय भी लग जाता है। उसके रिसर्च और गाइड पर भी इसका समय निर्भर हो सकता है।

पीएचडी की फीस कितनी है?

PhD Course की फीस सभी प्राइवेट यूनिवर्सिटी मे अलग-अलग हो सकती है जबकि सरकारी यूनिवर्सिटी मे इस कोर्स की फीस प्राइवेट यूनिवर्सिटीयों से कम होती है।

संस्था का नाम राज्य
Indian Institute of Management Ahmedabad Ahmedabad
University of Delhi Delhi
Indian Institute of Management (IIMB) Bangalore
India Institute of Technology Delhi (IITD) Delhi
India Institute of Technology (IIT Kanpur) Kanpur
Indian Institute of Technology (IIT Madaras) Madaras

पीएचडी करने के फायदे

PhD Karne Ke Fayde आपको बता दे की पीएचडी करने के बहुत से फायदे है जो की आपको नीचे बताए गए है।

  • यह एक उच्च स्तरीय डिग्री का कोर्स है।
  • PhD करने के बाद आप अपने फील्ड में एक्सपर्ट कहलाएंगे।
  • इसकी डिग्री हासिल करने के पश्चात आप एक प्रोफेसर के रूप में किसी भी कॉलेज में कार्यरत हो सकते हैं।
  • यह करने के बाद आप रिसर्च एवं एनालिसिस भी कर सकते हैं।
  • इसकी डिग्री हासिल करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर का प्रोफेशनल शब्द लग जाता है।
  • यह धारक किसी भी पोजीशन के लिए जॉब में आवेदन कर सकता है।
  • इसके उम्मीदवार को हम क्रिएटर ऑफ इंफॉर्मेशन कहते हैं।
  • पीएचडी करने के बाद आपको अपने फील्ड में इतना ज्ञान हो जाएगा कि आप यह समझ सकेंगे कि क्या गलत है और क्या सही।

पीएचडी किस विषय से करें जानिए

आप अपने पसंद के किसी भी विषय से PhD कर सकते हैं। यह आप पर निर्भर करता है। हम आपको नीचे कुछ प्रमुख पीएचडी के विषय बता रहे है।

  1. हिंदी
  2. इतिहास
  3. अंग्रेजी
  4. होम साइंस
  5. एग्रीकल्चर
  6. फार्मेसी
  7. फाइन आर्टस
  8. बायोकेमिस्ट्री
  9. सर्जरी
  10. जियोलॉजी
  11. जियोग्राफी
  12. एकाउंटिंग

पीएचडी में प्रवेश कैसे ले

पीएचडी में प्रवेश लेने के लिए आपको सबसे पहले नेट की परीक्षा देनी होगी। इसके बाद आप जिस भी कॉलेज से पीएचडी का कोर्स करना चाहते हैं। उसका प्रवेश परीक्षा भी देना होगा। कॉलेज द्वारा संचालित प्रवेश परीक्षा में पास होने के बाद आपको आपकी पसंद का कॉलेज में एडमिशन मिल जाएगा। यह भी पढ़ें – 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये जानिए

Note: प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद आपका इंटरव्यू लिया जाता है। इंटरव्यू में चयन करने के बाद बहुत सी यूनिवर्सिटी इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट और मेडिकल टेस्ट भी लेती है। इन सभी प्रोसेस के बाद आपका एडमिशन हो जाता है।

पीएचडी की तैयारी कैसे करें?

  • PhD की तैयारी करने के लिए आपको कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना जरूरी है। जिसके द्वारा आप इसकी तैयारी अच्छे से कर सकेंगे।
  • आप जिस भी वर्ष पीएचडी में प्रवेश लेने की सोचे उसके पहले के वर्षों के प्रश्न पत्रों को देखें और उनके पैटर्न को समझे इससे आपको अनुमान लग जाएगा कि किस तरीके के प्रश्न पूछे जाएंगे।
  • जिन्होंने PhD परीक्षा पास कर ली है। ऐसे छात्रों से आप विचार विमर्श करें इससे आपको दिशा निर्देश मिलेगा और वह आपकी सहायता करेंगे।
  • आप जिस भी विषय से पीएचडी करना चाहते हैं। उस विषय पर आपको अधिक ध्यान देना चाहिए। पीएचडी करने से पहले ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में इन विषयों की पढ़ाई अच्छे से करनी चाहिए। जिनमें आपको PhD करना है।

पीएचडी करने के लिए महत्वपूर्ण जानकारी

12वीं की पढ़ाई करें

पीएचडी में प्रवेश के लिए आप 12वीं में उसी विषय का चुनाव करे, जिसमें आपकी रुचि अधिक हो, आपको उसी विषय में गहन अध्ययन करना होगा और अच्छी पढ़ाई करते हुए न्यूनतम 60 प्रतिशत अंक प्राप्त करने का प्रयास करना होगा

स्नातक

12वीं कक्षा मे अच्छे अंको प्राप्त करने के बाद आप स्नातक में उन्हीं विषयों का चुनाव करे, जो आप ने इंटरमीडियट में विषय लिए हो, जिससे आप को स्नातक में बहुत ही सहायता प्राप्त होगी, क्योकि आप का बेस पहले से ही मजबूत होगा, जिससे आगे की पढ़ाई बहुत अच्छे से कर पाएंगे। स्नातक में आपको अपने विषय को बहुत गहराई से अध्ययन करना होगा, जिससे आप को परास्नातक में बहुत आसानी होगी। स्नातक आप न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण करने का प्रयास करे।

परास्नातक

स्नातक अच्छे अंको के साथ उत्तीर्ण होने के बाद आप परास्नातक में प्रवेश ले और परास्नातक में वही विषय का चुनाव करे, जिससे आप स्नातक उत्तीर्ण हो और आपको सबसे अच्छा विषय लगता हो। यहां पर इस बात का विशेष ध्यान दे, यदि आपके परास्नातक में 55 प्रतिशत से कम अंक होंगे, तो आप पीएचडी में प्रवेश नहीं ले पाएंगे, इसलिए बहुत ही अच्छे से पढ़ाई करे, क्योंकि यहाँ पर आपने थोड़ी सी भी गलती की तो आपके आगे के सारे रास्ते बंद हो जाएंगे और आप उस विषय में पीएचडी नहीं कर पाएंगे।

यूजीसी नेट परीक्षा

परास्नातक 55 प्रतिशत अंको से उत्तीर्ण होने के बाद आप यूजीसी नेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है, यह एक राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा है, जिसको उत्तीर्ण करना आवश्यक कर दिया गया है, पहले यह आवश्यक नहीं थी। यह परीक्षा वर्ष में दो बार आयोजित होती है अतः कठिन मेहनत की जाये तो इसको पहले प्रयास में ही उत्तीर्ण कर सकते है। यूजीसी नेट परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप पीएचडी प्रवेश परीक्षा में भाग ले सकते है। यह भी पढ़ें – सहायक अध्यापक कैसे बने जानिए

पीएचडी प्रवेश परीक्षा

सभी विश्वविद्यालय अलग से पीएचडी प्रवेश परीक्षा का आयोजन करते है, भविष्य में सम्पूर्ण राज्य में एक संयुक्त परीक्षा कराने की योजना सरकार द्वारा बनायी जा रही है, इसलिए आप जिस विश्वविद्यालय से पीएचडी करना चाहते है, आप वहा पर आवदेन कर सकते है। प्रवेश परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त होने पर ही आपको पीएचडी में प्रवेश प्रदान किया जायेगा, इसलिए अच्छे अंक प्राप्त करने का प्रयास करे। यह भी पढ़ें – क्रिकेट में करियर कैसे बनाये जानिए

पीएचडी के बाद करियर के ऑप्शन

पीएचडी एरिया ऑफ़ वर्क
इंग्लिश लिटरेचर कॉलेज प्रोफेसर
लिंग्विस्टिक्स पब्लिक सेक्टर एंड साइंस कम्युनिकेशन
केमिस्ट्री रासायनिक अनुसंधान केंद्रों और प्रयोगशालाओं में विश्लेषक
फार्मेसी मेडिकल रिसर्च सेंटर्स
लॉ सरकारी क्षेत्रों में सलाहकार पद
बायोलॉजी साइंस राइटिंग
जियोलॉजी भूवैज्ञानिक केंद्रों में सेवा के प्रमुख
नुट्रिशन साइंटिफिक एडवाइजर
मॉलिक्यूलर बायोलॉजी मेडिकल रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर्स
बायोकेमिस्ट्री पेटेंट लॉयर

पीएचडी से जुड़े सवाल जवाब (FAQ)

पीएचडी करने के लिए ग्रेजुएशन में काम से कम कितने अंक चाहिए ?

पीएचडी करने के लिए आपको अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री कम से कम 55% के साथ प्राप्त करनी पड़ेगी।

पीएचडी की डिग्री प्राप्त करने में कितना समय लगता है?

पीएचडी की डिग्री प्राप्त करने पर आपको लगभग 6-8 साल का समय लगता है।

PhD Full Form In Hindi पीएचडी की फूल फॉर्म क्या है?

डॉक्टर ऑफ़ फिलॉसफी (Doctor of Philosophy) है।

ताजा अपडेट और करियर की जानकारी के लिए हमसे जुड़े

ताजा अपडेट और करियर की जानकारी के लिए टेलीग्राम चेनल से जुड़े Click Here
Search Duniya Home Click Here

यह भी पढ़ें

सरकारी भर्तियों की अपडेट यहां से देखे

एमबीए (MBA) कैसे करे, मास्टर ऑफ़ बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन क्या है जानिए

परीक्षा में टॉप कैसे करें, परीक्षा मे अच्छे अंक लाने के लिए ऐसे करें पढ़ाई

सहायक अध्यापक कैसे बने, Assistant Teacher Kaise Bane जाने योग्यता, सैलरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button